27 December 2010

कवि सम्मेलन भी और ब्लॉगर मिलन भी (सादर निमंत्रण)

आप सबको आमंत्रित करते हुये मुझे बहुत हर्ष हो रहा है। मेरे गृहनगर सांपला में पहली बार हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन (मेरे और मेरे परम मित्रों के सहयोग से) किया जा रहा है। आपके आगमन से मुझे, मेरे सहयोगियों, और मेरे परिवार को बहुत खुशी होगी। इस सम्मेलन में आप श्री अलबेला खत्री जी, श्री योगेन्द्र मौदगिल जी, श्री नीरज जाट जी और मुझसे तो मिलेंगे ही। जो-जो ब्लॉगर मित्र इस सम्मेलन का लुत्फ उठाना चाहते हैं, कृप्या मुझे 31, दिसम्बर 2010 को शाम 5:30 बजे तक मेल, फोन या टिप्पणी द्वारा जरूर सूचित कर दें। जिससे मुझे आपके डिनर और  सोने की व्यवस्था (सामर्थ्य अनुसार) करने में आसानी हो। मेरा फोन नम्बर 09871287912 है। आयोजन के समय और स्थान के लिये कृप्या नीचे निमंत्रण पत्र अवश्य पढें। "सांपला" दिल्ली-हिसार रोड पर, दिल्ली पंजाबी बाग से 45 किमी है, यानि केवल 1 घंटे में आप दिल्ली से सांपला पहुँच सकते हैं। 

16 comments:

  1. भैया हम तो आ नहीं पाएंगे पर अपनी शुभकामनाएं भेज रहे हैं रिसीव कर लेना। :)

    ReplyDelete
  2. टिकिट बुक होते ही सूचना देते हैं जी
    और टिकिट नहीं मिली
    तो बेटिकिट आ जाएगें
    पहले ये बता दो सांपला टेसन में
    बेटिकिट कौन से गेट का उपयोग करें?:)

    ReplyDelete
  3. हम तो जी आये धरे हैं।

    ReplyDelete
  4. हम तो आपकी पोस्ट से ही कवीगनों की रचनाओ का रसपान कर लेंगे |

    ReplyDelete
  5. अमां हमारा परिचय तीन साल पहले क्यों नहीं हुआ? छह महीने और रुक जाओ, हर महीन, हर हफ़्ते मीटेंगे तुमसे:)
    तब तक ऐसे हर आयोजन के लिये हार्दिक शुभकामनाये।

    ReplyDelete
  6. आप को शुभकामनायॆं जी इस आयोजन के लिये, ओर सफ़ल रहे आप का यह आयोजन,

    ReplyDelete
  7. बहुत बहुत शुभकामनायें सफलतम आयोजन की।

    ReplyDelete
  8. सोहिल जी, कार्यकर्म की सफलता के लिए शुभ कामनाएं ........
    बकिया.... खुदे पहुँचने की कोसिस करेंगे...

    ReplyDelete
  9. बहुत शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  10. कार्यकर्म की सफलता के लिए शुभ कामनाएं ........

    ReplyDelete
  11. कवि सम्‍मेलन में तो आ जायें
    पर यह तो बतलायें
    सांप कहां से लायें
    क्‍या उनसे कविताएं सुनोगे
    या जो पारिश्रमिक मांगेगे
    तो सांप ही सामने धरोगे
    वैसे जो हूट करना चाहें कवियों को
    उन्‍हें भी सांप से डराया जा सकता है
    पर सांप अगर वो ही लाया होगा
    तो सांप उसे तो नहीं डरायेगा

    एक बात और बतलायें
    इतने सारे सांपों का
    आप करेंगे क्‍या
    कि शहर का नाम ही रख दिया
    सांपला
    प्‍याजो की जवानी
    अगर अच्‍छी लगे
    तो इस टिप्‍पणी को ही
    कविता बना लेना
    संयोजक को बतला देना
    वो इसे भी सुना देगा
    जो आयेंगे वहां पर
    मतलब लाये जायेंगे
    सांप
    वे भी तो लें कविता
    सम्‍मेलन को आंक
    कविता सम्‍मेलन क्‍यों नहीं कराते हैं
    कवि सम्‍मेलन ही खूब कराये जाते हैं

    ReplyDelete
  12. गूगल अर्थ पर सांपला खोज लूँ पहले... फ़िलहाल दिव्य दृष्टि से देखने की मंशा है :)

    ReplyDelete
  13. शुभकामनाएं अंतर सोहिल जी ,समापन रिपोर्ट दीजियेगा!

    ReplyDelete
  14. नये साल की नई शाम को होने वाले कवि सम्मेलन के लिए बहुत - बहुत शुभकामनाएं । नया साल 2011 आपके व आपके परिवार के जीवन को खुशियों और उल्लास से भर दे ।

    ReplyDelete

मुझे खुशी होगी कि आप भी उपरोक्त विषय पर अपने विचार रखें या मुझे मेरी कमियां, खामियां, गलतियां बतायें। अपने ब्लॉग या पोस्ट के प्रचार के लिये और टिप्पणी के बदले टिप्पणी की भावना रखकर, टिप्पणी करने के बजाय टिप्पणी ना करें तो आभार होगा।